नसीब अपना अपना शायरी 2 लाइन।। Naseeb shayari 2023

Naseeb shayari photo in Hindi 2023:- स्वागत है आपका फिर से हमारे साथ एक ओर नई, Naseeb apna apna shayari, की पोस्ट पर। दोस्तों वो बोलते हैं न की जो नसीब में होगा वो ही होगा, इसलिए आज हम आपके लिए कुछ नसीब के संबंधित कुछ शायरी, नसीब अपना अपना शायरी, खराब नसीब शायरी,2 line naseeb shayari photo, बेस्ट नसीब शायरी फोटो 2023, लेकर आए हैं।

जैसा कि हर कोई बोलता है की वो चीज मेरे नसीब में नहीं है जो नसीब में होता है वो ही मिलता है लेकिन अगर आदमी अपनी मेहनत में कमी नहीं छोड़े तो वो चीज भी पा सकता है जो उसके नसीब में नहीं है क्योंकि अगर आदमी नसीब के भरोसे बैठा रहे तो वो बैठा ही रहता है इसलिए अगर आप भी अपने नसीब के भरोसे बैठे हैं तो मेहनत करना शुरू कर दे और अपने खराब नसीब को बदलना शुरू कर दें। 

अगर आप भी,naseeb shayari,apna apna shayari,2line Naseeb shayari photo, बेस्ट नसीब शायरी फोटो, खराब नसीब शायरी 2 लाइन, लेकर आए हैं तो चलिए शुरू करते हैं।

2 Line naseeb shayari photo in Hindi 2023 


संभालकर कर रखना अपने इस वक्त को, ये मुस्कुराने के पल हर किसी को नहीं मिलते हैं।


भगवान से मुझे अब कोई शिकायत नहीं है, जो मेरे नसीब में नहीं था वो मुझे मिला नही।

जिंदगी बड़ी अजीब है जनाब, मौत नसीब में नहीं ओर प्यार किस्मत में नहीं।

अपना अपना नसीब शायरी 2023।naseeb shayari photo 



मेरे नसीब में नहीं है लेकिन नसीब के आगे जुकूंगा नहीं, थक जरूर गए हम लेकिन मेहनत करते रुकेंगे नहीं।

बहुत करीब से देखा है हमने मौत को, अभी जिंदा है अपने नसीब से।


न शिकवा है न किसी से गिला है, बस जो हमारे नसीब में नहीं वो हमने मिला नहीं।

खराब नसीब शायरी।kharab Naseeb shayari 2023 


बड़ा अजीब रिश्ता है नजर ओर नसीब का, जिसे नजर चाहे वो नसीब में ही नहीं है।

नहीं है मिलना नसीब में, कुदरत तू ही कुछ करिश्मा कर दे, जब यहां तक आ गया तेरे भरोसे तो आगे भी मंजिल दिखा दे।


हमने सब कुछ नसीब के भरोसे छोड़ दिया, लेकिन नसीब ने हमें कहीं का नहीं छोड़ा।

जो नसीब में नहीं था शायरी।naseeb me nahi thi shayari।



तेरा दीदार करना मेरा नसीब नहीं था, मेने अंशुओ से लिख दिया तेरा इंतजार करना।

जब मेरे नसीब में नहीं है फूल तो माली, क्या करूं आया हूं तो कुछ कांटे ही लेता चलूं।


ये नसीब नसीब की बात है, कोई नफरत करके भी प्यार पाता है ओर कोई प्यार करके भी नफरत पाता है।

2 line naseeb shayari 2023। नसीब शायरी 2 लाइन



अभी भी मोहब्बत में वफादारी निभाते हैं कुछ लोग, लेकिन वफादारी की भी किसी किसी के नसीब में होती है।

को होना है वो होगा उसे जाने दो, जो नसीब में नहीं वो जायेगा।


जिंदगी तुझसे शिकायत तो बहुत है, लेकिन मुझे मिला वो भी हर किसी के नसीब में नहीं।

Best Naseeb shayari photo। बेस्ट नसीब शायरी 2023 


दिल का जोर कहां चलता है नसीब पर, किसी का प्यार बड़ी मुश्किल से मिलता है।

तुम दूर हो लेकिन मेरे दिल के बहुत करीब हो, शायद तुम्हे एहसास नहीं की तुम मेरा नसीब हो।


कम्बक्त दिल भी उसी पर आता है जो हमारे नसीब में नहीं होता है।

Top Naseeb shayari। खराब नसीब शायरी 2023 



कोई गिला नहीं की तुम मेरे नसीब में नहीं हो, हम भी सोच लेंगे की तुम हमसे मिले ही नहीं।

प्यार हो तो नसीब मे हों, वरना दिलों में हर किसी के होता है।


नसीब के पन्ने खाली है, लेकिन हाथ भरे हैं लकीरों से।

फूटा नजीब शायरी। Futa Naseeb shayari 2023 



मेरे नसीब को बदल देंगे मेरे बुलंद इरादे, क्योंकि मेरे किस्मत मोहताज नहीं हैं लकीरों।

बेसक हम नसीब से हार गए हों, लेकिन मोहब्बत दोनों ने सच्ची की थी।


एक खुदा किसी एक का तो नसीब बदल दे, चाहे मुझे उसका कर दे या उसे मेरा।

Naseeb shayari sad 2 line। नसीब शायरी सड़ 2 लाइन 



आजकल हर कोई देता है जख्म गिन गिन कर, अब किस किस को अपना नसीब समझूं।

सूरत इंसान की कितनी ही खूबसूरत हो, लेकिन होती है नसीब की मोहताज।

आज नहीं तो कल तो एहसास होगा उसको, की फिक्र करने वाले नसीब वालों को ही मिलता है।

जो आपके नसीब में है वो खुद आएगा, लेकिन को नहीं है वो आकर भी चला जायेगा।

Naseeb shayari hindi। नसीब शायरी हिंदी में।



नसीब से ज्यादा हमने तुम पर भरोशा किया, लेकिन जितना नसीब नही बदला जितना तुम बदल गए।

नसीब वाली होती है वो लड़की, जिसे लड़का रो रो कर दुआ में मांगता है।

जिसके नसीब में हों जमाने की ठोकरें, उससे आप सहारे की उम्मीद न करें।

Naseeb shayari photo। अपना नसीब शायरी



नसीब इतना अच्छा हो की हम तुम प्यार करें ओर दोनों एक हो जाएं।

दिल अमीर था मगर मुकद्दर गरीब था,मिलकर बिछड़ना तो हमारा नसीब था,हम चाह कर भी कुछ कर न सके,घर जलता रहा और समंदर करीब था।

उन गलियों से जब गुज़रे तो मंज़र अजीब था,दर्द था मगर वो दिल के बहुत करीब था,जिसे हम ढूँढ़ते थे अपनी हाथों की लकीरों में,वो किसी दूसरे की किस्मत किसी और का नसीब था।

Naseeb apna apna sad shayari in Hindi 


अगर यकीन होता कि कहने से रुक जायेंगे,तो हम भी हंसकर उनको पुकार लेते,मगर नसीब को मेरे ये मंजूर नहीं था,कि हम भी दो पल ख़ुशी के गुजार लेते।

भरे सावन में ये रेगिस्तान लगता है, भरा है घर मेरा लेकिन खाली मकान लगता है।

हमारा नसीब तो देखो, हमने जिससे दिल से प्यार किया उसने हमारे प्यार को जिस्मानी समझ लिया।

किस पर यकीन करें, किस पर गिला, ऐसा हाल कर दिया हमारे नसीब ने हमारा।

मेरे जैसा मिलना बहुत नसीब की बात है, हम किसी के हालात देखकर बात नहीं मारते।



एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

buttons=(Accept !) days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Privacy polocy
Accept !