Advertisement

Latest attitude बदमाशी शायरी 2021

बदमाशी शायरी हेल्लो दोस्तों नमस्कार दोस्तों आज हम आपके लिए लेकर आए हैं बेस्ट एटीट्यूड शायरी तेवर शायरी बदमाशी शायरी फोटो अकड़ शायरी akad badmashi or tewar Shayari status photos jisko log apne WhatsApp Facebook Instagram Twitter Pinterest etc जैसे platform par अपने दोस्तों को share share kr skte ho अपना गुस्सा shayari ko जिन्हे आप लोग खोज करते हों वो सभी शायरी collection इस पोस्ट मैं मिल जाएंगी 




दुश्मन 😠वाकिफ कहां हैं हमारी 🛸उड़ान से कोइ और थे 🤦वो जो हार गए 🤷तूफ़ान से 

बदमाशी शायरी फोटो badmashi shayri
Dushman 😠wakif kha hai humari 🛸udan se or the🤦 wo jo har gye🦁 tufan se

जो कहना है 🦁कहो हमारे बारे मैं ये🛸 तो वक्त⌚ वक्त की 🤷बात हैं ओर वक्त ⌚किसी का नही होता हैं

अकड़ शायरी akad shayari status 2021

Jo kehna hai kaho humare barein me ye to vaqt-vaqt ki bat hai or vaqt kisi ka nhi hota

पूछते🤔 हैं लोग की 😜कैसी है वो है तो🤷 सीधी सादी भोली भाली लेकीन 😠जिगरा शेरा🦁 बरगा रखती है

तेवर शायरी फोटो बेस्ट स्टेट्स tevar shayari 2021

Puchte hai log kaisi hai wo hai to sidhi sadhi bholi bhali lekin jigara sher barga rakhti hai

हमारी खामोशी को हमारी कमजोरी मत समझना क्योंकि जब तक गौड़ा दबता नहीं बन्दूक भी खिलौना लगती हैं

Attitude Shayari status photos एटीट्यूड शायरी फोटो

☝☺✊✋✋✋
Humari khamoshi ko humari kamjori mat samjna kyunki jab tak goda dabta nhi banduk bhi khilona lagti hai

हम जानते है उनकी उड़ान को हमारे ही हाथों से बड़े हुए परिंदे है वो

Hum jante hai unki udan ko humare hi hathon se bde huye parinde hai wo

जहां सच नहीं चलता वहा जूठ ही सही और जहां हक ना चले वहा लूट ही सही

Jhan sach nhi chalta vha juth hi shi or jahan hak na chle vha lut hi shi

ये मत सोचना की हमारी उम्र छोटी है हौसला हम आज भी कायनात को मुठ्ठी में करने का रखते है

Ye mat sochna ki humari umr choti hai hosla hum aaj bhi kaynat ko muthi me krne ka rakhte hai 

खाली रेगिस्तान भी खिल उठते है खुशी से जब हमारे साथ हमारे भाई खड़े हो जाते हैं

Khali registan bhi khil uth te hai khushi se jab humare sath humare bhai khade ho jate hai


जमाने की सुनकर कभी किसी के आगे मत जुकना 
ओर जब जमीर ना माने तो किसी को सलाम मत करना

Jamane ki sunkar kabhi kisi ke aage jukna mat or jab jamir na mane to kisi ko salam mat krna

साफ बता दो अगर मन भर गया है तो हम्हे इनकार पसंद हैं इंतजार नहीं 

Saf bta do agar man bhar gya hai to humhe inkar pasand hai intjar nhi


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ