Advertisement

2 line attitude Shayari in hindi एटीट्यूड शायरी इन हिंदी 2021

नमस्कार दोस्तों आशा करता हूं की आप अच्छी होंगे तो चलिए आज हम आपकी लिए लेकर आए है बेस्ट एटीट्यूड शायरी फोटो best aatitude Shayari जिनको आप अपने दोस्तों के साथ facebook whatsapp instagram twiter pinterst पर शेयर कर सकते है इस पोस्ट मैं आपको अकड़ तेवर बदमाशी एटीट्यूड शायरी फोटो मिलेंगी 





अजीब सी बस्ती है हमारी जनाब जहां लोग मिलते कम हैं और झांकते ज्यादा हैं 

Ajib si basti hai humari jnab jhan log milte kam hai or jhankte jyada hai 

हमें वफादारी चाहिए थी जनाब इसलिए हमने एक कुता पाल लिया है 

Humhe vafadari chahiye thi jnab isliye humne ek kuta pal liya hai 

इक ही यार और साला वो भी गदार 

Ek hi yar or sala wo bhi gadhar

आग लगाने वाले शायद कहा जानते हैं की रूख अगर हवा का मुड़ा तो वो भी जलकर खाक हो जाएंगी

Aag lagane wale sayad khan jante hai ki rukh agar hawa ka muda to wo bhi jalkar khakh ho jayengi 

आदमी खुद की नज़र में सही होना चाहिए लॉग तो ऊपर वाले से भी दुखी है 

Aadmi khudh ki najr me shi hona chahiye log to upar wale se bhi dhukhi hai

अगर दोस्ती दिल से की तो जान भी दे देंगे और अगर गदारी की तो याद रखना जान ले भी लेंगे 

Agar Dosti dil se ki to jaan bhi de denge or agar gadari ki to yad rakhna jaan le bhi lenge 

बेसक आपकी नजर मैं हम बुरे है चाहे तुम अपने अच्छे पन का दिखावा करते फिरो हमें कोई फर्क नहीं पड़ता 

Besak aapki najar me hum bure hai chahe tum apne ache pan ka dikhawa krte firo humhe koi fark nhi padta 

शायद कुछ लोग ये बात जानते हैं की जो हमारी बात मानते है हम उनके बाप के बाप हैं 

Sayad kuch log ye bat jante hai ki jo humari bat mante hai hum unke baap ke baap hai 

साथ उनका दो जो आपके साथ है और दगाबाज को उसकी ओकत मैं रखो 

Sath unka do jo apke sath hai or dagabaj ko uski okat mein rakho 

सरीफो की गिनती मै हम भी आते है जनाब जब तक तब तक कोई ऊंगली ना करे 

Sarifo ki ginti mein hum bhi aate hai jnab tab tak tab tak koi ungli na kre 

दिल के अच्छे है जनाब इसलिए ही सब सह लेते हैं 
तमाशे करने लगे तो आपकी जिंदगी जीने के लिए कम पड़ जायेगी 

Dil ke ache hai jnab isliye hi sab seh lete hai tamashe krne lge to apki jindgi jine ke liye kam pad jayegi 
 
जिस जगह पर तुम अपनी मनमानी करते हो याद रखना उस जगह के हम नवाब है और जो तुम ये नई नई बदमाशी कर रहे हो ना उसमे भी हम तुम्हारे बाप है 

Jis jagah par tum apni manmani krte ho yad rakhna us jagah ke hum nawab hai jo or jo tum ye nai nai badmashi kr rhe ho na usme bhi hum tumhare baap hai 

सुनो जिनके दम पर तुम इतना उछल ते हो ना तुम्हें पता नही शायद वो रोज़ आकर हमें सलाम करते हैं 

Suno jinke dum par tum itna uchal te ho na tumhe shayad pta nhi wo roj aakr humhe slaam krte hai 

हमारी ओकात्त की बात मत करो बेटा लॉग गोली से कम डरते हैं और हमारी आंखों से ज्यादा 

Humari okat ki bat mat kro beta log goli se kam darte hai or humari ankho se jyada 

जो हमारी सराफट को देखकर सिर पर बैठ जाते हैं उन्हे हम अपना दूसरा रूप जल्दी ही दिखा देते हैं 

Jo humari sarafat ko dekhkar sir par baith jate hai unhe hum apna dusra roop jldi hi dikha dete hai 


खिलाफ कितने हैं हमे घंटा फर्क नहीं पड़ता हैं और हिसाब सबका होगा फिर चाहे वो कितना ही बड़ा नवाब हो 

Khilaf kitne hai humhe ganta fark nhi padta hai or hisab sabka hoga fir Chahe wo kitna hi bda nawab ho 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ