Advertisement

जिंदगी की किताब पर हिन्दी motivation शायरी

1.“गर्व करना है तो अपनी पिता की इज्जत पर करो धन पर नहीं इज्जत कमाने मे उम्र बीत जाती हैं और धन कभी भी कमा सकते हैं” 
      

1.“Garv karna h to Apni pita ki ijat pr karo dhan pr nhi ijat kamane me Umar bit jati h or dhan kbi bi Kama sakte h” 

"""""""""""""""""""“"""""""""""""""

2.“अपनी जिंदगी की किताब के पनौ को किसी के सामने पूरा नहीं खोलना चाहिए क्यूंकि कुछ लोग पन्नों के साथ छेड़ छाड़ करने लाग जाते हैं” 

      
2.“Apni zindgi ki kitab ke pane kisi ke samne pura Mt kholna chaie kyunki kuch log pano se ched Chad krne lg jate h” 

"""""""""“"""""""""""""""""""""
3.“लाइफ मे आपको सब गिराने की सोचते है केवल आप की शिक्षा को छोड़ कर बस शर्त इतनी है कि थोड़ा समय लगता है” 💪 

3.“Life me apko sb girane ki sochte h keval ap ki shiksha ko chod kr bus srt itni hoti h ki time leti h” 

"""""""""""""""""""""""""""""""
4.“आपकी शिक्षा आपके संस्कार और आपके सोच अछि है तो आप अपने माँ बाप का दिल कभी नहीं दुखा सकते हैं” 

4.“Apke shiksha apke Sanskar or apki soch achi h to ap Apne maa bap ka Dil kbi nhi dukhaoge” 

"""""""""""""""""""""""""""""""

5.“आप की पढ़ाई स्पस्ट नहीं करती की आप कितने समझदार हो ब्लकि आपके संस्कार करते है” 


5.“Ap ki padai deside nhi krti ap kitne samjdar h Balki apke Sanskar krte h” 

एक टिप्पणी भेजें

12 टिप्पणियाँ

  1. इस टिप्पणी को एक ब्लॉग व्यवस्थापक द्वारा हटा दिया गया है.

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

      हटाएं
  2. इस टिप्पणी को एक ब्लॉग व्यवस्थापक द्वारा हटा दिया गया है.

    जवाब देंहटाएं
  3. इस टिप्पणी को एक ब्लॉग व्यवस्थापक द्वारा हटा दिया गया है.

    जवाब देंहटाएं
  4. उत्तर
    1. इस टिप्पणी को एक ब्लॉग व्यवस्थापक द्वारा हटा दिया गया है.

      हटाएं
    2. इस टिप्पणी को एक ब्लॉग व्यवस्थापक द्वारा हटा दिया गया है.

      हटाएं
  5. इस टिप्पणी को एक ब्लॉग व्यवस्थापक द्वारा हटा दिया गया है.

    जवाब देंहटाएं
  6. इस टिप्पणी को एक ब्लॉग व्यवस्थापक द्वारा हटा दिया गया है.

    जवाब देंहटाएं
  7. इस टिप्पणी को एक ब्लॉग व्यवस्थापक द्वारा हटा दिया गया है.

    जवाब देंहटाएं